Thursday, January 22, 2009

वर्षा का फ़ार्मूला (The RAIN Formula )

 

audiodharmacourse द्वारा संचालित mindfullness meditation course का यह तीसरा सप्ताह है । आरम्भ मे तो मैने इसको गम्भीरता से  नही लिया लेकिन नोना ओलीवा  द्वारा भेजे कई ई मेल से इसकी गम्भीरता को समझना ही पडा । आज के सुविचार हैं : वर्षा का फ़ार्मूला यानि Rain Formulae

कभी-२ उद्देलित करती हुई परिस्थितयाँ और भावनायें हम पर भारी पड जाती हैं । इन परिस्थितयाँ मे वर्षा का फ़ार्मूला बहुत ही सहायक हो सकता है । अधिकतर परिस्थितयों मे तो पहला कदम ही मददगार साबित होता है । वह कैसे , इसको समझें :

R:  Recognize it. Name it.

       पहचानो और इसे एक नाम दो ।

A:  Accept it.

       इसे स्वीकार करो ।

I:   Investigate it, be curious.  What is it like, right now, this moment, in the body, heart and mind?

      इसे उत्सुकता से तफ़्तीश करो कि यह कैसा है, क्या है जो  हर      पल मन और शरीर को प्रभावित करता रहता है ।

N: Non-identification (Not-me).  This feeling is just a passing process that comes and goes, it’s not who I am.

     और सबसे आवशयक , मै नही का बोध रखो । यह परिस्थितयाँ आती और जाती रहेगी ; यह एक गुजरती हुई प्रक्रिया है और इसमे मेरा अस्तित्व और रोल नगण्य है ।

2 comments:

  1. I love the rain formula. Beautiful post.
    Peace to you,
    Molly

    ReplyDelete